12/10/2013

डेंगू से बचाव: आओ करें प्राकृतिक उपचार

डेंगू
डेंगू से बचाव: आओ करें प्राकृतिक उपचार
डेंगू एक रोग हैं जो एडीज इजिप्टी मच्छरों के काटने से होता है। यह रोग अचानक तीव्र ज्वर के साथ शुरू होता है, जिसके साथ साथ तेज सिर दर्द होता है, मांसपेशियों तथा जोडों मे भयानक दर्द होता है. इसे हड्डी तोड़ बुखार भी कहते हैं। 

इसके अलावा पेट खराब हो जाना, पेट दर्द होना, कमजोरी, दस्त लगना, ब्लेडर की समस्या, निरंतर चक्कर आना, भूख ना लगना जैसे लक्षण उभर सकते हैं. कई मामलों में यह रोग जानलेवा रूप भी ले सकता है। 

इन दिनों डेंगू बड़ी तेज़ी से फ़ैल रहा है! इस भयानक बीमारी से बचाव के उपाय करना ही बेहतर है, ताकि आप स्वस्थ् रहे! इस पोस्ट में पढ़िये डेंगू से बचाव में सहायक कुछ प्राकृतिक उपचार-
  • तुलसी व नीम के ५ -५ पत्ते पानी के साथ एक सप्ताह तक ले। यह उपचार डेंगू से बचाव में सहायक होगा.
  • सुबह खाली पेट तुलसी के ३ पत्ते नियम से खाये.
  • नीम व तुलसी के पत्ते, सौंठ, काली मिर्च, अजवायन व सेंधा नमक मिलाकर पानी के साथ सेवन करे.
  • डेंगू से बचाव के लिये, नींबू की चाय (बिना दूध की) पीना लाभकारी है .
  • रोजाना दूध में आधा चम्मच हल्दी मिलाकर पीना सेहत के लिये फायदेमंद है. साथ ही डेंगू से बचाव का आसान उपाय है
  • १० ग्राम काला जीरा, ५ ग्राम सफ़ेद जीरा, २ ग्राम बीज रहित मुनक्का ले. इन्हे पीसकर गोली बना ले व दिन में तीन बार एक एक गोली पानी से ले.
  • घर में नीम के सूखे पत्तों की धुनी देना मच्छरों को काबू करने हेतु प्रभावी विधि है.