WEIGHT LOSS लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
WEIGHT LOSS लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

14/09/2014

मोटापा कम करने के प्राकृतिक उपचार

आज हर कोई मोटापे (Obesity) से परेशान है।आधुनिक समय में यह एक बीमारी के रूप में तेजी से फैल रहा है। मोटापा वह स्थिति है जब अत्यधिक शारीरिक वसा शरीर के भागों में चर्बी के रूप में एकत्र हो जाती है व स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव डालने लगती है।

मोटापे के कई कारण हो सकते है। इनमें से प्रमुख है अधिक चर्बीयुक्त आहार का सेवन, व्यायाम न करना, मानसिक तनाव व हाइपोथाइरॉयडिज़्म।

मोटे व्यक्ति को अधिकांशतः मधुमेह, उच्च रक्तचाप, दिल की बीमारी, जोड़ों का दर्द, गठिया, घुटनों में दर्द, कब्ज और अन्य कई विकारों की संभावना भी अधिक होती है। कुछ प्राकृतिक घरेलू उपचारों का उपयोग करके तथा जीवनशैली में परिवर्तन करके आप मोटापे की समस्या से छुटकारा पा सकते है।

मोटापा कम करने के प्राकृतिक उपचार
  • अपने दिन की शुरुआत नींबू पानी से करें। हर रोज सुबह गुनगुने पानी में नींबू का रस और थोड़ा सा नमक मिला कर सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती है।
  • त्रिफला (१० ग्राम) चूर्ण को एक गिलास पानी में दस मिनट तक उबालें। इस मिश्रण को छानकर रोज सुबह इसका सेवन करें।
  • रोज सुबह करेले के रस में नींबू रस मिलाकर पीने से भी शरीर की चर्बी कम होती है।
  • सुबह उठकर १-२ टमाटर खाने से भी मोटापा नियंत्रित होता है।
  • दिन मे दो बार गुग्गुल गोंद को हल्का गुनगुना करके सेवन करना मोटापा नियंत्रित करने में सहायक है।
  • कच्चा या पकाया हुआ पत्तागोभी खाना मोटापे को कम करने में आश्चर्यजनक रूप से सहायक है।
  • रोज़ाना ग्रीन टी का सेवन करना न सिर्फ वज़न नियंत्रित करता है, बल्कि शरीर के लिये भी फायदेमंद है। उत्तम गुणवत्ता की ग्रीन टी की पत्तियों को उबले पानी में डालकर ५ -१० मिनट ढककर रखें। इसे दिन में २-३ बार पीयें।
  • बराबर मात्रा में आंवले व हल्दी का चूर्ण छाछ के साथ पीने से पेट की अतिरिक्त चर्बी कम होती है।
  • रोज सुबह छोटी पीपल का चूर्ण (३ ग्राम) छाछ के साथ सेवन करने से वजन कम करने में मदद मिलती है।
  • छाछ मे काला नमक व अजवाइन मिला कर दोपहर के भोजन के बाद पीये।
  • आधा चम्मच सौंफ को एक कप उबलते पानी में डालें व १० मिनिट तक इसे ढककर रखें। ठंडा होने पर इस पानी को पिएं।
  • दिन भर में ३-४ लीटर पानी पीने से शरीर के विषैले तत्व बाहर निकलते है व पेट की चर्बी भी कम होती है।
ध्यान रखें-

भारी, गरिष्ठ, तले, चटपटे खाद्य पदार्थ ना खायें। अपने आहार में खूब फल और हरी सब्जियां शामिल करें। रेशेदार खाद्य पदार्थ का सेवन अधिक से अधिक करें। कम चर्बी वाले दूध का सेवन करें। नमक व शक्कर का सेवन कम करे। जल्दबाजी में कभी भोजन ना करें। शरीर के वजन को संतुलित रखने के लिए सुबह नियमित रूप से घूमने जाये। एरोबिक्स, जॉगिंग, साइकिलिंग, योगासन, रस्सी कूदना, आदि व्यायाम भी वजन संतुलित रखने में सहायक है

सबसे ज़रूरी बात - हमेशा खुश रहिए, मुस्कुराते रहिए J